Wednesday, June 1, 2011

मेरी रचना माटी के पृष्ठ पर ...................


18 comments:

  1. ्बधाई हो आलोकिता।

    ReplyDelete
  2. समाज को आईना दिखाती रचना
    अपने ब्लाग को हमारीवानी से जोड़ लो इससे और पाठको को यहाँ आने में सुविधा होगी

    ReplyDelete
  3. Badhai Alokita.... yah rachna aapke blog par padhi thi...sunder lekhan

    ReplyDelete
  4. सुंदर लेखन सच्चाई बयां करती हुई रचना , बधाई

    ReplyDelete
  5. अरे वाह मेहनत रंग लाई, मुबारक हो,

    ReplyDelete
  6. बधाई हो आपको ! सुन्दर लेख !
    मेरी नयी पोस्ट पर आपका स्वागत है : Blind Devotion - स्त्री अज्ञानी ?

    ReplyDelete
  7. बधाई बधाई बधाई बधाई बधाई बधाई बधाई बधाई

    ReplyDelete
  8. कई दिनों व्यस्त होने के कारण ब्लॉग पर नहीं आ सका

    ReplyDelete
  9. सुन्दर रचना है , बधाई

    ReplyDelete
  10. बहुत बहुत बधाई.
    ------------------------

    आपकी एक पोस्ट की हलचल आज यहाँ भी है

    ReplyDelete